viralkhabri.com

Rajasthan: रात में प्रेमी के साथ लड़ा रही थी इश्क बहू, ससुर ने देखा तो कमरे में किया बंद, फिर जो हुआ रोंगटे खेड़े कर देगा?

 
राजस्थान

राजस्थान के भरतपुर जिले मे एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। जहां एक पत्नी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या कर दी और शव को नहर में फेंक किया। दोनों ने मई महीने में वारदात को अंजाम दिया था। जिसके बाद से आरोपी पत्नी अपने प्रेमी के साथ मिलती रही और उसके साथ अवैध संबंध बनाती रही। इधर, परिजन ये समझते रहे कि उनका बेटा कहीं लापता है। 

पुलिस भी उसकी तलाश करती रही, लेकिन कुछ पता नहीं चला। हाल ही में ससुर को अपनी बहू के कमरे से किसी व्यक्ति की अवाज आती सुनाई दी तो वह उसके वहां पहुंचे। उन्होंने देखा कि उनकी बहू उस व्यक्ति के साथ संबंध बना रही है। ऐसे में उन्होंने कमरे का दरवाजा बाहर से बंद किया और पुलिस को बुलाया, जिसके बाद युवक की हत्या का राज खुला। 

जानकारी के अनुसार  मामला भरतपुर जिले के चिकसाना थाना इलाके का है। 3 जून 2015 को नौह गांव में रहने वाले पवन शर्मा (37) की शादी यूपी के कानपुर की रहने वाली रीमा (23) से हुई थी। शादी के बाद दोनों सब कुछ ठीक चल रहा था। दोनों के दो बेटे भी हुए। इसी बीच दोनों के बीच में पड़ोस में रहने वाले भागेंद्र (27) की एंट्री हो गई। भागेंद्र और रीमा एक दूसरे से प्यार करने लगे और मौका पाकर मिलने भी लगे। दोनों के बीच घर में ही अवैध संबंध भी बनते। 29 मई 2022 की रात रीमा और भागेंद्र अवैध संबंध बना रहे थे, इस दौरान पवन की नींद खुल गई और उसने दोनों को पकड़ लिया।

अपना राज खुलने के डर से रीमा और भागेंद्र ने पवन की हत्या कर दी। उसी रात को भागेंद्र ने पवन के शव को नहर में ले जाकर फेंक दिया। इधर, पवन के परिजन समझते रहे कि उनका बेटा लापता हो गया। चार दिन इंतजार के बाद पवन के पिता हरिप्रसाद शर्मा ने 4 जून 2022 को चिकसाना थाने में उसकी गुमशुदगी दर्ज कराई। परिजन और पुलिस दोनों पवन को तलाश करते रहे, लेकिन उसका कोई सुराग नहीं लगा। परिजन बेटे के वापस आने का इंतजार करने लगे और रीमा उनके सामने मायूस बनने का नाटक करती रही।

रात को रीमा अपने प्रेमी को घर बुलाती और उसके साथ संबंध बनाती। कई महीनों तक ऐसा ही चलता रहा, किसी को भी इस बात की भनक नहीं लगी। 16 अक्टूबर 2022 की रात हरिप्रसाद शर्मा को अपनी बहू के कमरे से किसी पुरुष की आवाज सुनाई दी। उन्होंने पास जाकर देखा तो रीमा भागेंद्र के साथ संबंध बना रही थी। उन्होंने कमरे का दरवाजा वाहर से बंद किया और पुलिस फिर पुलिस को सूचना दी। दोनों पर शक होने पर हरिप्रसाद ने रीमा और उसके प्रेमी भागेंद्र के खिलाफ बेटे पवन की हत्या का केस दर्ज कराया। 

पुलिस ने दोनों को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो रीमा टूट गई। उसने बताया कि 29 मई को पवन ने उसे और भागेंद्र को आपत्तिजनक हालत में पकड़ लिया था। जिसके बाद दोनों ने मिलकर उसकी हत्या कर दी और शव को नहर में फेंक दिया। जिसके बाद पुलिस ने नहर में शव तलाशने की कोशिश की। इस दौरान गोताखोरों को मृतक पवन का पैंट, आधार कार्ड और कुछ हड्डियां मिली हैं। पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस का कहना है कि मृतक की पैंट और शव के कुछ अवशेष मिले हैं, जिनकी जांच कराई जाएगी।