SHANKAR MISHRA: फ्लाइट में महिला पर पेशाब करने के आरोपी शंकर मिश्रा पर एक्शन, 42 दिन बाद बेंगलुरु से हुई गिरफ्तारी

Advertisement
Advertisement

एयर इंडिया की फ्लाइट में महिला पर पेशाब करने वाले दोषी शंकर मिश्रा को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है. जानकारी के मुताबिक उसे दिल्ली भी लाया गया है. सूत्रों के मुताबिक बेंगलुरु में शंकर मिश्रा का दिल्ली पुलिस ने रातभर पीछा किया. इसके बाद संजय नगर थानाक्षेत्र में उसे दबोच लिया गया. शंकर को चिनप्पा होम स्टे में रखा गया था. आरोपी लंबे समय से फरार चल रहा था. पुलिस ने उसके खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी कर रखा था. 26 नवंबर को एयर इंडिया की फ्लाइट न्यूयॉर्क से दिल्ली आ रही थी. तभी विमान के बिजनेस क्लास में सफर कर रहे नशे में धुत शंकर मिश्रा ने 70 वर्षीय बुजुर्ग महिला पर पेशाब कर दिया था. पुलिस ने आरोपी के खिलाफ आईपीसी की धारा 354,294,509,510 के तहत केस दर्ज किया है.

शंकर मिश्रा की लास्ट लोकेशन बेंगलुरु थी, उसी आधार पर उसकी खोजबीन की जा रही थी. दिल्ली पुलिस से जुड़े सूत्रों का कहना है कि तीन जनवरी को शंकर मिश्रा (35) का मोबाइल फोन बेंगलुरु में एक्टिव था. लेकिन उसके बाद उसका फोन स्विच ऑफ है. बेंगलुरु से पहले दिल्ली पुलिस ने कई टीमें मुंबई भेजी गई थीं, लेकिन वहां उसका पता नहीं चल सका था.

मामला तूल पकड़ने के बाद आरोपी शंकर मिश्रा को उसकी कंपनी वेल्स फार्गो (Wells Fargo) ने टर्मिनेट कर दिया है. कंपनी ने बयान जारी कर कहा कि वेल्स फार्गो अपने कर्मचारियों से पेशेवर और निजी तौर पर उच्च व्यवहार की उम्मीद करता है. हमें यह आरोप बहुत ही परेशान करने वाले लगे. इस शख्स को वेल्स फार्गो से टर्मिनेट कर दिया गया है. हम इस मामले में जांच में पूरी तरह से सहयोग कर रहे हैं. शंकर मिश्रा Wells Fargo कंपनी में वाइस प्रेसिडेंट था. यह कंपनी अमेरिका की एक मल्टीनेशनल फाइनेंशियल सर्विसेज कॉरपोरेशन से जुड़ी हुई है.

महिला आयोग ने 7 दिन में मांगी है रिपोर्ट

राष्ट्रीय महिला आयोग ने भी इस मामले को संज्ञान में लिया है. आयोग की चेयरपर्सन रेखा शर्मा ने दिल्ली पुलिस आयुक्त को पत्र लिखकर संबंधित कानून के प्रावधानों के तहत मामले में तत्काल केस दर्ज करने और एक बुजुर्ग महिला को मानसिक आघात पहुंचाने के दोषी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं.

आयोग ने एयर इंडिया लिमिटेड के अध्यक्ष को भी इस मामले में हस्तक्षेप करने और फ्लाइट पर बुजुर्ग महिला के साथ भयानक व्यवहार करने और सम्मान और सुरक्षा का जीवन जीने के उसके अधिकार का उल्लंघन करने के लिए दोषी के खिलाफ उचित कार्रवाई करने के लिए लिखा है. आयोग ने मामले में की गई विस्तृत कार्रवाई की सूचना 7 दिनों के भीतर मांगी है.

एयर इंडिया ने आरोपी पर 30 दिन का लगाया बैन

एयर इंडिया की फ्लाइट में इस तरह की शर्मनाक घटना के मामले के तूल पकड़ने पर डीजीसीए ने सख्ती दिखाते हुए मामले में एयर इंडिया को नोटिस भी जारी किया है. एयर इंडिया ने इससे पहले गुरुवार को डीजीसीए को रिपोर्ट भी सौंपी थी. फिलहाल एयर इंडिया ने मिश्रा पर 30 दिनों का बैन लगा दिया है. एयर इंडिया ने आरोपी के खिलाफ दिल्ली के पालम पुलिस स्टेशन में शिकायत भी दर्ज कराई है. इसके अलावा एयर इंडिया ने महिला की शिकायत के बाद क्रू मेंबर की चूक की जांच करने और मामले में त्वरित कार्रवाई में देरी के कारणों का भी पता लगाने के लिए एक आंतरिक समिति का गठन किया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *