Gujrat Miracle Affair: शादीशुदा महिलाओं में अफेयर का ट्रेंड चरम सीमा पर ,अहमदाबाद, सूरत, बड़ोदा और राजकोट सबसे आगे, वजह…

Advertisement
Advertisement

Gujraat Extra Miracle Affair:अहमदाबाद में एक शख्स की पत्नी गर्भवती हुई थी .तो पुरे परिवार में जश्न का माहोल बन गया . रिश्तेदारों को फ़ोन कर खुशियां बटोरी जाने लगीं. तभी, पति को एक सच पता लगा…बच्चा उसका नहीं,किसी और का है बच्चे का तो दोष नहीं, लेकिन उसके आने का स्वागत अब लड़ाई झगड़े में बदल गया . पति ने अपनी पत्नी को घर से बेघर कर दिया … गुजरात में एक हेल्पलाइन नंबर पर आने वाली एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर्स से जुड़ी शिकायतों में अचानक ढाई गुना बढ़ोतरी आई है. कोविड काल के वक्त से यह ट्रेंड बढ़ना शुरू हो चूका था . अब यह अहमदाबाद, सूरत, बड़ोदा और राजकोट जैसे शहरों में भी काफी तेजी से फैल चुका है.

विवाह बाह्य संबंधों में इस अचानक आई तेजी की सबसे अहम वजह भी सामने आ रही है. सोशल मीडिया का इस्तेमाल जितनी तेजी से बढ़ा है, उतनी ही तेजी से इन समस्याओं में भारी तेजी आई है. नए-नए डेटिंग ऐप्स आ गए हैं. इन ऐप्स के जरिए चारदीवारी से बाहर जाकर खुशियां तलाशने की लत खूब बढ़ रही है.

महिला हेल्पलाइन 181 ‘अभयम’ के पेश किए गए आंकड़े, चौंका देने वाले
महिला हेल्पलाइन 181 ‘अभयम’ से आंकड़े जो सामने आए हैं, वे चौंका देने वाले हैं. हेल्पलाइन पर हर घंटे एक ना एक एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर से जुड़ा केस रिकॉर्ड हो रहा है. 2018 से 2022 के दौरान हेल्पलाइन पर आने वाली शिकायतों में बहुत तेजी आई है. 2018 में हेल्पलाइन पर इस तरह की 3837 मामले दर्ज किये गये थे . पिछले साल यानी 2022 में यह संख्या उचल कर 9382 तक पहुंच गई. यानी पिछले पांच सालों में विवाह बाह्य संबंधों में ढाई गुना तेजी देखने को मिली है.

घरेलू हिंसा, यौन शोषण के बाद सबसे ज्यादा सामने आ रहे विवाह बाह्य संबंध
घरेलू हिंसा और यौन शोषण के बाद सबसे ज्यादा रिकॉर्ड किया जाने वाले मामले एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर्स से ही जुड़े होते हैं. साथ ही ऐसे मामले गुजरात के चार बड़े शहरों से सामने आ रहे हैं. इन शहरों में अहमदाबाद, सूरत, बड़ोदा और राजकोट का नाम शुमार हैं. आंकड़ों के मुताबिक साल 2022 में जो 9382 विवाह बाह्य संबंधों के केस सामने आए, उनमें से 4426 मामले इन्हीं चार शहरों से जुड़े हैं.

डेटिंग ऐप्स की वजह से बढ़ रहे अफेयर्स, महिलाओं को मिल रहे पार्टनर्स
इसकी वजह तेजी से बढ़ते हुए डेटिंग ऐप्स के तौर पर सामने आ रही है. पिछले साल कोविड काल के बाद इन ऐप्स की संख्या एकदम से बढ़ी. इसके अलावा सोशल मीडिया का प्रयोग भी तेजी से बढ़ा है. इन्हीं के जरिए एक्सट्रा मैरिटल अफेयर्स बढ़ रहे हैं. कई संबंधों में परिवार का ही कोई करीबी सदस्य होता है तो वर्किंग प्लेस में कोई कलिग, दोस्त या ऑनलाइन फ्रेंड से बातों-बातों में बात बन जा रही है. इसके बाद जब इन संबंधों में जटिलताएं सामने आने लगती हैं तो मदद के लिए ये महिलाएं हेल्पलाइन नंबरों पर कॉल करती हैं. जिनसे यह राज खुलता है.

बड़ी बात तो यह है कि इस बारे में खुलासा तब हो रहा है, जब ऐसे संबंधों में महिलाएं उलझ ती नजर आ रही हैं. ऐसे केसेस का तो सिर्फ अनुमान ही लगाया जा सकता है जहां दोनों तरफ से ठीठ-ठाक चल रहा हो या फिर महिलाएं जानकारियां गोपनीय रखने का भरोसा देने पर भी शिकायत करने में शर्म या हिचक या फिर डर महसूस कर रही हों और चुपचाप रहती हों.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *