viralkhabri.com
44 साल की चाची का 14 साल के भतीजे पर आया दिल, चाचा ने दोनों को आपत्तिजनक अवस्था में देखकर गांव वालों के साथ मिलकर किया ऐसा की सब रह गए हैरान
 
Viral

चाची और भतीजा की प्रेम कहानी बिहार के पूर्णिया जिले से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. यहां 44 साल की चाची का अपने 14 साल के भतीजे के साथ अफेयर चल रहा था. इसी दौरान चाचा ने दोनों को आपत्तिजनक अवस्था में पकड़ लिया।

इसके बाद जमकर हंगामा हुआ और चाचा ने गांव वालों के साथ मिलकर दोनों की शादी करा दी. दोनों की शादी का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.


मिली जानकारी के अनुसार मामला पूर्णिया जिले के बनमनखी थाना क्षेत्र का है. घटना 12 सितंबर की है, लेकिन अब जबरन शादी का वीडियो सामने आया है. वीडियो में दिख रहा है कि गांववालों के दबाव में भतीजा अपनी ही मौसी की मांग में सिंदूर भर रहा है. सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने पति व अन्य ग्रामीणों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली है.

"मेरे चाचा मेरे 7 साल की उम्र से मेरे साथ बलात्कार कर रहे हैं, मेरी शादीशुदा जिंदगी को बर्बाद करने की धमकी दे रहे हैं"... 28 साल बाद, लड़की ने प्राथमिकी दर्ज की।

गांव वाले पहले से जानते थे

महिला की उम्र करीब 44 साल है, जबकि लड़के की उम्र महज 14 साल है. वह घर पर रहता था। इसी दौरान उसके मौसी के साथ उसके अवैध संबंध थे। इसकी जानकारी घरवालों के साथ-साथ ग्रामीणों को भी हो गई। सब आपस में बातें कर रहे थे। नाबालिग लड़के के पिता को भी पड़ोसियों ने इसकी सूचना दी।

पति पंजाब में काम करता है

ग्रामीणों ने बताया कि महिला के 3 बच्चे भी हैं. पति पंजाब में काम करता है। घरवालों को दोनों के प्रेम प्रसंग के बारे में पता चला। इसके बाद महिला के पति को फोन पर सूचना दी गई। पति बिना किसी को बताए चुपके से गांव पहुंच गया।


ग्रामीणों ने किया शादी का दबाव

वह दोनों को देखने लगा। इस दौरान महिला और भतीजा कमरे में अकेले थे। उसने दोनों को आपत्तिजनक स्थिति में पकड़ लिया। यह बात उसने अपने आसपास के लोगों को बताई। मौके पर ग्रामीण जमा हो गए। पति ने ग्रामीणों पर अपनी पत्नी की शादी अपने भतीजे से करने का दबाव बनाया। गांव के लोग शादी के लिए दबाव बनाने लगे। गांव वालों को लाठी-डंडे लिए देख बालक डर गया। नाबालिग लड़के ने डर के मारे मौसी की मांग पर सिंदूर भर दिया. ग्रामीणों के डर से लड़के के माता-पिता विरोध नहीं कर सके।