viralkhabri.com
SDM Success Story: इस शहर की पहली महिला SDM अपूर्वा यादव हिंदी मीडियम से की पढ़ाई, अमेरिका में नौकरी, ऐसे बनी SDM
 
re

 Viral Khabri, SDM Apoorva Yadav Biography: प्रतियोगी परीक्षा के पहले प्रयास में हर कोई सफल नहीं होता है। कुछ लोगों को इसके लिए काफी मेहनत करनी पड़ती है। उत्तर प्रदेश के एक छोटे से कस्बे मैनपुरी के रहने वाले अपूर्व यादव तीन बार यूपी पीसीएस परीक्षा में फेल हुए थे। लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी और आखिरकार चौथे प्रयास में एसडीएम बने और कामयाबी का झंडा बुलंद किया.

SDM Apoorva Yadav Education: अपूर्व यादव की स्कूली शिक्षा हिंदी माध्यम से हुई है। लेकिन इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल करने के लिए उनका अंग्रेजी का एक्सपर्ट होना भी जरूरी था। उन्होंने कड़ी मेहनत की और न केवल इंजीनियरिंग पूरी की, बल्कि टीसीएस (टीसीएस जॉब्स) में नौकरी भी हासिल की। टीसीएस जैसी मल्टीनेशनल कंपनी में तीन साल काम करने के बाद उन्हें अमेरिका जाने का मौका मिला। उसी समय उनके दिमाग में सिविल सर्विसेज का विचार आया।

 govt vacancy        Success story: कभी करता था 1200 रुपए की मजदूरी, आज है करोड़ों की फैक्ट्री का मालिक

एसडीएम अपूर्व यादव रैंक: अपूर्व यादव यूपीएससी परीक्षा के साथ-साथ यूपी पीसीएस परीक्षा की तैयारी कर रहे थे। तीन बार असफल होने के बाद, वह अंततः 2016 में अपने चौथे प्रयास में सफल हुई। इसमें 13वां रैंक हासिल कर वह अपने शहर की पहली महिला एसडीएम (मैनपुरी की पहली महिला एसडीएम) बनीं। अपूर्व यादव की यह उपलब्धि बेहद काबिले तारीफ है।


SDM Apoorva Yadav Rank: अपूर्व यादव यूपीएससी परीक्षा के साथ-साथ यूपी पीसीएस परीक्षा की तैयारी कर रहे थे। तीन बार असफल होने के बाद, वह अंततः 2016 में अपने चौथे प्रयास में सफल हुई। इसमें 13वां रैंक हासिल कर वह अपने शहर की पहली महिला एसडीएम (मैनपुरी की पहली महिला एसडीएम) बनीं। अपूर्व यादव की यह उपलब्धि बेहद काबिले तारीफ है।

SDM Apoorva Yadav English: मैनपुरी की पहली महिला एसडीएम अपूर्व यादव ने अंग्रेजी भाषा पर अपनी पकड़ मजबूत करने के लिए काफी मेहनत की है. इसके लिए उन्होंने टीवी पर अंग्रेजी के कार्यक्रम देखे, अंग्रेजी के उपन्यास देखे और लोगों से बिना झिझक के टूटी-फूटी अंग्रेजी में बात की। इससे पता चलता है कि अगर कोई व्यक्ति अभ्यास करता रहे तो वह कुछ भी हासिल कर सकता है।