viralkhabri.com

Jind: हांसी, हिसार और बरवाला रूट की बसों को बाहर से भेजने के नियम पर भड़के विद्यार्थी, बस अड्डे पर जड़ा ताला

 
रोडवेज

एक बार फिर से जींद डिपो प्रबंधन ने बसों के संचालन को लेकर शेडयूल जारी कर दिया  है। नए शेडयूल के अनुसार हांसी, हिसार व बरवाला रूट की बस सीआरएसयू, देवीलाल चौक व टेंडरी मोड़ से होते हुए चलेंगी। वहीं नौ बजे तक असंध, नरवाना व कैथल रूट की बसों का शहर के अंदर से होकर जाएगी । इसके बाद नए बस स्टैंड से कैथल, असंध व नरवाना रूट पर चलने वाली बस फ्लाईओवर से होकर चलेंगी। वहीं नरवाना, असंध व कैथल रूट से आने वाली बस शहर के अंदर से गुजरेगी ।

जीएम व डीटीओ ने लिया निर्णय

गांव पांडू पिंडारा में बनाए गए बस अड्डा से बसों के संचालन को लेकर रोडवेज द्वारा छह बार फेरबदल किया जा चुका है। एक बार फिर नए निर्देशों के अनुसार रोडवेज महाप्रबंधक व डीटीओ ने हांसी, हिसार व बरवाला रूट पर चलने वाली बसों को शहर के बाहर से चलाने  करने का फेसला  लिया है। इसके तहत यह बस अब गोहाना रोड से होते हुए सीआरएसयू के सामने से रोहतक रोड पर पहुंचेगी। इसके बाद देवीलाल चौक से होते हुए हांसी रोड फ्लाईओवर से टेंडरी मोड से होते हुए हांसी, हिसार व बरवाला रूट के लिए निकलेंगी।जिससे बाजार के अंदर कोई जाम नहीं लगेगा 

शहर के यात्रियों को होगी परेशानी, 20 रुपये देना होगा किराया

नए शेडयूल के अनुसार बसें चलती हैं तो शहर से पुराना बस स्टैंड, सफीदों गेट, एसडी स्कूल, बतख चौक, रुपया चौक व पटियाला चौंक से हिसार रूट पर चलने वाले यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ेगा है। इन यात्रियों को बस पकड़ने के लिए बस स्टैंड या फिर टेंडरी मोड पर जाना होगा। जिसके लिए यात्रियों को 20 रुपये अतिरिक्त किराया लगाना पड़ सकता है। वहीं हिसार रूट पर चलने वाली बसों को शहर के बाहर से चलाए जाने के बाद रूट का सर्वे किया जाएगा जिसके बाद इस रूट पर किराये में फेरबदल कर सकते है। इसके अलावा सिटी बस सर्विस नियमित रूप से शहर के अंदर से चलती रहेंगी। रोडवेज द्वारा चार पिंक बसों को सिटी बस सर्विस के रूप में चलाया जा रहा है।

इस तरह बसों के संचालन को लेकर होता रहा फेरबदल

मार्च महीने की शुरूआत में पांडू-पिंडारा में नए बस स्टैंड से बसों का संचालन शुरू हो गया था। तब से बसों के संचालन को लेकर फेरबदल होता रहता  है। मार्च महीने में बसों को फ्लाईओवर से होते हुए चलाया जा रहा था। इसके विरोध में अप्रैल महीने में छात्रों ने बस स्टैंड के गेट को ताला जड दिया  और दुकानदारों ने रोष जताया तो शहर के अंदर से बसों का संचालन शुरू कर दिया गया। वहीं सितंबर महीने के अंत में रोडवेज जीएम ने आटो चालक व प्राइवेट बस आपरेटरों के साथ बैठक कर शहर के बाहर से बसों का संचालन करने के आदेश दिए थे। इसके बाद विद्यार्थियों ने प्रदर्शन कर बस स्टैंड के गेट पर ताला जड़ा था। इसके चलते जीएम को शहर के बाहर से बस चलाने के आदेश वापस लेने पड़े थे ।

इसके बाद शहर के बाहर से बसों का संचालन करने की मांग को लेकर अक्टूबर महीने की शुरूआत में ऑटो चालाकों ने दो दिन की हड़ताल कर दी  थी। इस दौरान नई साल की शुरूआत तक सभी बसों का संचालन शहर के बाहर से करने के आश्वासन पर ऑटो चालकों ने हड़ताल समाप्त की थी। इसके बाद रोडवेज व डीटीओ ने बैठक कर सुबह दस बजे तक व दोपहर दो बजे से लेकर चार बजे शहर के अंदर से बस चलाने का निर्णय लिया था। अब फिर से फेरबदल करते हुए हिसार, हांसी व बरवाला रूट पर चलने वाली बसों को शहर के बाहर से संचालन करने का निर्णय लिया गया है।

हांसी, हिसार व बरवाला रूट की बस जाएंगी शहर के बाहर से : कौशिक

जींद डिपो के महाप्रबंधक अशोक कौशिक ने बताया कि हांसी, हिसार व बरवाला रूट की बसें सीआरएसयू, देवीलाल चौक व टेंडरी मोड़ से होकर निकलेंगी। सुबह के समय नौ बजे तक असंध, नरवाना व कैथल रूट की बसों का शहर के अंदर से होगा ओर इसके बाद नए बस स्टैंड से कैथल, असंध व नरवाना रूट पर चलने वाली बसें फ्लाईओवर से होकर चलेंगी। नरवाना, असंध व कैथल रूट से आने वाली बस शहर के अंदर से आएंगी।