Featured Social

5 फीट की कब्र में खुद को जिंदा दफन करने जा रहा था शख्स, कारण जानकर रह जाएंगे दंग | Andhra Pradesh 70-year-old Tathireddy Lachi Reddy digs his own grave,’ wanted to reach God

https://hindi.oneindia.com/img/2018/07/a1-1532762142.jpg


एक पांच फीट का गड्डा अपने खेतों में खोदा

एक पांच फीट का गड्डा अपने खेतों में खोदा

लाची रेड्डी ने 24 जुलाई को एक पत्र पुलिस को लिखा था। जिसनें उन्होंने कहा था कि, वह ‘सजीव समाधि’ लेने की योजना बना रहे हैं। क्योंकि देश अब और निवास करने के लिए उपयुक्त नहीं रहा है। लाची रेड्डी ने अपनी समाधि के लिए एक पांच फीट का गड्डा अपने खेतों में खोदा था। जिसे अंदर से पक्का करा दिया।वहीं समाधि के बहारी हिस्से को भी सीमेंट और पत्थर से ढक दिया गया। लाची रेड्डी का लेटर प्रशासन को मिलने के बाद पुलिस की एक टीम लाची के गांव पहुंची।

लाची रेड्डी बहुत ही आध्यात्मिक हैं

लाची रेड्डी बहुत ही आध्यात्मिक हैं

मचेला के पुलिस इंस्पेक्टर दिलीप कुमार और सब इंस्पेक्टर लोकेश्वर राव ने बुजुर्ग से यह कदम उठाने के लिए मना किया। उन्होंने बताया कि, सुसाइड करना कानूनी अपराध है और वह खुद एक अपराध करने वाले हैं। पुलिस के काउंसलिंग से लाची रेड्डी ने अपना मरने की योजना को त्याग दिया। लोकेश्वर राव ने कहा, ‘लाची रेड्डी बहुत ही आध्यात्मिक हैं और क्षेत्र में होने वाले भजन और आध्यात्मिक मंडलियों में भाग लेते रहते थे। वह सभी हिंदू देवताओं की पूजा करते हैं। उनकी पत्नी का कुछ समय पहले निधन हो गया था।’

वह भगवान तक पहुंचना चाहते हैं

वह भगवान तक पहुंचना चाहते हैं

लाची के गांव में 10 एकड़ जमीन है। उनके दो बेटे हैं जो उनके साथ नहीं रहते हैं। लाची के छोटे बेटे ने बताया कि, वह पिछले 10 सालों से आध्यात्मिक जीवन गुजार रहे हैं। वह अपने खेदों में बने एक छोटे कमरे में रहते हैं। वहीं पर उनके परिवार वाले उन्हे खाना आदि उपलब्ध कराते हैं। पुलिस के अनुसार, रेड्डी ने गांववासियों को बताया कि उनका बेटा और पोता अच्छे से जीवन गुजार रहे हैं और उनके पास जीवन में करने के लिए कुछ नहीं रह गया है। इसलिए, वह भगवान तक पहुंचना चाहते हैं। लोकेश्वर राव ने कहा कि, ‘हमने उनके बेटे और पोते को सलाह दी थी कि यदि लाची रेड्डी खुद को दफनाने की कोशिश करते हैं तो उन दोनों को जिम्मेदार ठहराया जाएगा।’



Source link