cricket sports

हिंदी न्यूज़ – धोनी,विराट, सहवाग को आउट करने वाला गेंदबाज बना ‘विलेन’, आखिरी ओवर में लुटाए 22 रन!


धोनी,विराट, सहवाग को आउट करने वाला गेंदबाज बना 'विलेन', आखिरी ओवर में लुटाए 22 रन!

धोनी,विराट, सहवाग को आउट करने वाला गेंदबाज बना ‘विलेन’




Updated: July 29, 2018, 11:56 AM IST

क्रिकेट भी बेहद अजीबोगरीब खेल है. इस खेल में एक दिन कोई गेंदबाज अपनी टीम के लिए हीरो बनता है तो अगले दिन वही गेंदबाज अपनी टीम के लिए विलेन बन जाता है. कुछ ऐसा ही हुआ इंग्लैंड के तेज गेंदबाज टिम ब्रेसनन के साथ, जिन्होंने टी20 ब्लास्ट में अपनी टीम को जीता हुआ मैच हरवा दिया. शनिवार को डर्बीशायर के खिलाफ खेले गए मैच में यॉर्कशायर के इस गेंदबाज ने बेहद ही खराब प्रदर्शन किया और उनकी टीम मैच हार गई.

आखिरी ओवर में दिए 22 रन
टी20 ब्लास्ट के मुकाबले में यॉर्कशायर ने पहले बल्लेबाजी करते हुए डर्बीशायर को 167 रनों का लक्ष्य दिया था. यॉर्कशायर ने कसी हुई गेंदबाजी कर अपनी जीत तय कर ली थी. आखिरी ओवर में डर्बीशायर को 19 रन बनाने थे और उसकी हार तय लग रही थी. हालांकि ऐसा हुआ नहीं, डर्बीशायर के दाएं हाथ के बल्लेबाज मैच क्रिच्ले ने आखिरी 6 गेंदों पर चमत्कार कर दिखाया. उन्होंने अनुभवी ब्रेसनन के ओवर में दो छक्के और दो चौके लगाकर अपनी टीम को सनसनीखेज जीत दिला दी.

ब्रेसनन का खराब प्रदर्शनब्रेसनन की पहली गेंद पर क्रिच्ले ने 2 रन लिए. दूसरी गेंद पर क्रिच्ले ने शानदार छक्का जड़ दिया. अब डर्बीशायर को जीत के लिए 11 रनों की जरूरत थी. तीसरी गेंद पर क्रिच्ले ने एक और चौका जड़ दिया. अब डर्बीशायर को जीत की उम्मीद बंध गई. आखिरी तीन गेंदों पर उसे 8 ही रन चाहिए थे. ब्रेसनन की चौथी गेंद पर क्रिच्ले ने छक्का जड़ दिया. इसके बाद पांचवी गेंद पर एक और चौका जड़ क्रिच्ले ने अपनी टीम को जीत दिला दी. ब्रेसनन ने 1.5 ओवर में 39 रन दिए. वहीं क्रिच्ले ने 223.52 के स्ट्राइक रेट से 17 गेंदों में नाबाद 38 रन बनाए.

टिम ब्रेसनन इन दिनों इंग्लैंड की टीम से बाहर चल रहे हैं. ब्रेसनन वही गेंदबाज हैं जिन्होंने साल 2011 वर्ल्ड कप में भारत के खिलाफ महज 48 रन देकर 5 विकेट लिए थे. इस मैच में ब्रेसनन ने धोनी,विराट, सहवाग को आउट किया था. ये मैच टाई रहा था.

और भी देखें

Updated: July 28, 2018 12:04 PM ISTमार्टिन गप्टिल ने लगाया 35 गेंदों में शतक





Source link