Community

हिंदी न्यूज़ – जानिए क्यों इतने छक्के लगाते हैं आईपीएल के नए स्टार ईशान किशन, why Ishan Kishan hit so much sixes


मुंबई इंडियंस के इशान किशन ने कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ छह छक्के उड़ाकर पूरे देश का दिल जीत लिया. लेकिन ये पहला मौका नहीं है जब उन्होंने छक्के उडाए हैं. वो जिस मैच में खेलते हैं, उसमें छक्के उड़ाते हैं. इसका रिकार्ड भी बना चुके हैं.

किशन ने कोलकाता के ईडेन गार्डन पर केकेआर के गेंदबाज कुलदीप यादव की चार गेंदों पर जिस तरह लगातार चार छक्के उड़ाए, उसके बाद वो आईपीएल के नए स्टार बनकर उभरे हैं. हरकोई उनके बारे में जानना चाहता है. लेकिन सबसे बड़ी बात जो उनकी बैटिंग को दूसरों से अलग करती है वो उनके गगनचुंबी छक्के. बचपन से ही उन्हें आक्रामक बल्लेबाज माना जाता रहा है.

रणजी ट्रॉफी में एक पारी में 16 छक्के
रणजी ट्राफी में एक पारी में सबसे ज्यादा छक्के उड़ाने का रिकार्ड उन्हीं के नाम है. वर्ष 2016 में दिल्ली जैसी नामी टीम के खिलाफ उन्होंने एक पारी में 16 छक्के उड़ाकर विरोधी टीम के होश फाख्ता कर दिए थे. उस पारी में उन्होंने 273 रन बनाए थे, जो झारखंड के किसी क्रिकेटर का रणजी ट्राफी में सबसे ज्यादा रनों की व्यक्तिगत पारी भी है.

Ishan Kishan, Evin Lewis, Shubman Gill, Mumbai Indians, injury, IPL, Kolkata Knight Riders, Kolkata Knight Riders‬, ‪Mumbai Indians‬, ‪2018 Indian Premier League‬, ‪cricket‬, ‪Dinesh Karthik‬, ‪Rohit Sharma‬‬, आईपीएल, शुभमन गिल, क्रिकेट, कोलकाता नाइट राइडर्स, मुंबई इंडियंस, शुभमन गिल, एविन लुईस, इशान किशन

19 साल के इशान ने 17 गेंदों में लगाई फिफ्टी, 6 गेंद में लगाए 5 छक्के (iplt20.com)

ईस्ट जोन से एक पारी में सात छक्के
उसके बाद जब ईस्ट जोन के एक मैच में खेलने उतरे तो उन्होंने एक ही मैच में सात छक्के उड़ा डाले. किशन ने प्रथम श्रेणी के 32 मैच खेले हैं और उसमें 54 छक्के उडाए हैं. हालांकि आईपीएल में अब तक उनकी कोई खास पहचान नहीं बन पाई थी लेकिन कोलकाता के खिलाफ 09 मई के मैच में कप्तान ने उन्हें फ्री होकर खेलने का मौका देकर बैटिंग क्रम में पहले भेजा. और उन्होंने इसका पूरा फायदा उठाया.

पढने लिखने में कभी मन नहीं लगा
किशन पटना में पैदा हुए. उनका घर वहीं पर है. उम्र है 19 साल. पिता प्रणव पांडे बिल्डर हैं. घर में किसी चीज की कमी नहीं है. वो पटना में नामी गिरामी स्कूल डीपीएस में पढने गए. हालांकि बताया जाता है कि उनका पढने – लिखने कभी मन नहीं लगता था. वो क्लास में अपनी नोटबुक में हमेशा क्रिकेट फील्ड की ड्राइंग बनाते पकड़े गए.

इशान किशन

किधर लगाते हैं ज्यादा छक्के
ईडेन गार्डन पर केकेआर के गेंदबाज कुलदीप यादव की चार गेंदों पर उन्होंने जो लगातार चार छक्के मारे, वो सभी लेग साइड में थे. स्क्वायर लेग से लेकर लांग आन तक. सभी छक्के लंबे थे. बैट के साथ उनका बैक लिफ्ट बहुत दमदार है. इस कारण जब वो गेंद पर बल्ले से प्रहार करते हैं तो गेंद हवा में लंबा सफर तय करती है. उनके लांग साइड के हिट में ऑफ साइड के हिट्स की तुलना में ज्यादा दम दिखता है. जिन्होंने उन्हें किशोरवय से खेलते देखा है, वो बताते हैं कि वो छक्के लगाने की चुनौती लेते थे और किसी भी तरह की गेंद पर छक्का उड़ाकर दिखाते थे.

कम उम्र में क्रिकेट खेलनी शुरू की
किशन ने बहुत कम उम्र में क्रिकेट खेलनी शुरू की. केवल सात साल की उम्र में वो अपनी स्कूल की क्रिकेट टीम में न केवल शामिल हुए बल्कि टूर्नामेंट खेलने अलीगढ़ भी गए. उनके बड़े भाई राज भी अच्छे क्रिकेटर रहे हैं. उन्होंने राज्य स्तर पर क्रिकेट खेली.

तेज ड्राइविंग जब भारी पड़ गई
स्मार्ट और आकर्षक इस क्रिकेटर को क्रिकेट के बाद तेज ड्राइविंग बहुत पसंद है. हालांकि इस चक्कर में वो एक बार हवालात की सैर भी कर चुके हैं. ये वाकया वर्ष 2016 का है. पटना में वो तेज कार चला रहे थे और इससे एक आटोरिक्शा के साथ उनकी टक्कर हो गई. पुलिस ने उन्हें हवालात में डाल दिया. बाद में उनके पिता पर इस मामले को दबवाने का आरोप भी लगा.

झारखंड के स्टार क्रिकेटर हैं किशन
किशन बिहार से ही रणजी ट्राफी खेलना चाहते थे लेकिन उनके राज्य के क्रिकेट संघ को बीसीसीआई से मान्यता नहीं मिलने के कारण उन्हें झारखंड खेलने जाना पड़ा. वहां भी उन्होंने अपनी बैटिंग के झंडे गाड़े. किशन अंडर 18 वर्ल्ड कप में भारतीय टीम की कप्तानी कर चुके हैं. उनकी कप्तानी में टीम वर्ल्ड कप के फाइनल तक पहुंची थी. आईपीएल के पिछले सत्र में वो गुजरात लायंस से खेले थे. हालांकि उनके सबसे पसंदीदा क्रिकेटर धोनी और राहुल द्रविण हैं. धोनी झारखंड के हैं और द्रविड़ उनके कोच रह चुके हैं.

रिजर्व बैंक में काम करते हैं
किशन पटना में रिजर्व बैंक आफ इंडिया में अस्सिटेंट मैनेजर के पद पर काम करते हैं. पिछले साल ही उन्होंने ये नौकरी ज्वाइन की है.



Source link