Featured Social

सद्गुरु वासुदेव ने बाबा रामदेव को करार्इ बाइक की सवारी, लोग हुए हैरान, वीडियो Viral | Viral Video: Sadhguru takes Baba Ramdev for a ride

https://hindi.oneindia.com/img/2018/08/ramdev-613-1534064594.jpg


जब सद्गुरु जग्गी वासुदेव ने बाबा रामदेव को करार्इ डुकाटी की सवारी

जब सद्गुरु जग्गी वासुदेव ने बाबा रामदेव को करार्इ डुकाटी की सवारी

इस वीडियो मेंसदगुरु बाइक चला रहे हैं तो वहीं बाबा रामदेव उनके साथ बाइक पर पीछे बैठें हैं। इस वीडियो को अपलोड सद्गुरु के यूट्यूब चैनल से ही किया गया है, जिसका कैप्शन दिया गया है Biker dudes.

यह भी पढ़ें: पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सोमनाथ चटर्जी की हालत नाजुक, डॉक्टरों ने वेंटिलेटर पर रखा

 बाबा रामदेव ने जग्गी वासुदेव के साथ बाइक राइडिंग के अनुभव को भी साझा किया

बाबा रामदेव ने जग्गी वासुदेव के साथ बाइक राइडिंग के अनुभव को भी साझा किया

दोनों एक साथ रैली में निकले और लिटरेचर फेस्टिवल के दौरान ईशा फाउंडेशन के संस्थापक के साथ बाबा रामदेव ने जमकर सैर की। इस बाइक राइडिंग के बाद बाबा रामदेव ने जग्गी वासुदेव के साथ बाइक राइडिंग के अनुभव को भी साझा किया।

यही जीवन का सार है...

यही जीवन का सार है…

बाबा रामदेव ने कहा कि गुरु जी ने मुझसे कहा कि दोनों हाथ मत छोड़ना और मैंने ऐसा ही किया, इसके बाद बाबा रामदेव ने कहा कि जो गुरु को पकड़कर रखता है वह दुनिया में किसी से नहीं हिल सकता है और यही जीवन का सार है।

 कौन हैं सदगुरु जग्गी वासुदेव

कौन हैं सदगुरु जग्गी वासुदेव

जग्गी वासुदेव का जन्म 5 सितम्बर 1957 को कर्नाटक राज्‍य के मैसूर शहर में हुआ। उनके पिता एक डॉक्टर थे। इन्हें ‘सद्गुरु’ भी कहा जाता है। ये ईशा फाउंडेशन नामक लाभरहित मानव सेवी संस्‍थान के संस्थापक हैं। ईशा फाउंडेशन भारत सहित संयुक्त राज्य अमेरिका, इंग्लैंड, लेबनान, सिंगापुर और ऑस्ट्रेलिया में योग कार्यक्रम सिखाता है साथ ही साथ कई सामाजिक और सामुदायिक विकास योजनाओं पर भी काम करता है। इसे संयुक्त राष्ट्र के आर्थिक और सामाजिक परिषद में विशेष सलाहकार की पदवी प्राप्‍त है। जग्गी वासुदेव ने 8 भाषाओं में 100 से अधिक पुस्तकों की रचना की है।सद्गुरु का आश्रम कोयंबटूर शहर से करीब 40 किमी दूर एक पहाड़ी पर स्थित है।



Source link