Featured Social

वारदात: खून से लथपथ 9 साल के बच्चे को पुलिस ने ग्रीन कॉरिडोर बनाकर ऐसे पहुंचाया अस्पताल | Crime: Delhi Police provides green corridor to save 9-year-old kid injured

https://hindi.oneindia.com/img/2018/05/ap1-1-2018-000169b-1526481690.jpg


नई दिल्ली। दिल्ली में एक हैरान करने वाली घटना सामने आई है, जहां एक 9 साल के बच्चें को जान से मारने की कोशिश की गई। बच्चे पर दरांती से वार कर उसकी हत्या करने की कोशिश में आरोपी पुत्तन को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी ने बच्चे को दरांती से पहले उसके गर्दन पर वार किय और उसके बाद सिर पर हमला किया। हालांकि, बच्चे को पुलिस की फुर्ती और सूझबूझ से बचा लिया गया, लेकिन मासूम नावेद की आंख हमेशा के लिए चली गई।

पुलिस ने ग्रीन कॉरिडोर बनाकर ऐसे बचाया घायल बच्चे को

आरोपी पु्त्तिन नावेद के पिता के यहां काम करता था। आरोपी ने बताया कि जब वह वापस जाने लगा तो नावेद के पिता ने उसे पूरे पैसे से मना कर दिया। वहीं, नावेद के पिता का कहना है कि पुत्तन का बड़ा भाई पैसा एडवांस ले गया था। इसी बात से नाराज पुत्तन ने नावेद को जान से मारने की कोशिश की।

घायल नावेद को पुलिस बहुत ही बखूबी से अपना काम करते हुए हुए उसे हॉस्पिटल ले गए। एनबीटी की खबर के मुताबिक, बच्चे को अस्पताल पहुंचाने के लिए पुलिस ने ग्रीन कॉरिडोर बना दिया। मासूम नावेद को जिस गाड़ी से लेकर निकले, उसके आगे चार पुलिसकर्मी पट्रोलिंग बाइक से सायरन बजाते हुए चलने लगे। ट्रैफिक को रिंग रोड तक पूरी तरह फ्री करा लिया गया और महज 3 मिनट के अंदर क्राइम सीन से रिंग रोड तक जा पहुंचे। बच्चा अभी भी जिंदगी-मौत से जूझ रहा है।

आरोपी पुत्तिन दिल्ली से लखनऊ भाग गया, लेकिन बिना टिकट यात्रा करने के आरोप में उसे रेलवे स्टेशन पर टीसी ने पकड़ लिया। जिसके बाद बुराड़ी पुलिस ने हत्या की कोशिश समेत संगीन धाराओं में केस दर्ज किया है।



Source link