Featured Social

मायावती के साथ महागठबंधन में कौन होगा पीएम पद का दावेदार? अखिलेश यादव ने दिया बड़ा बयान | Lok Sabha Election 2019: Akhilesh Yadav Reveals, Who Will Be PM in Alliance With Mayawati

https://hindi.oneindia.com/img/2018/06/akhileshmayawati3-1529568450.jpg


'मुझे तो फिर से यूपी का सीएम बनना है'

‘मुझे तो फिर से यूपी का सीएम बनना है’

अखिलेश यादव से जब प्रधानमंत्री पद को लेकर सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘मैं तो इतना बड़ा सपना नहीं देखता कि 2019 मे देश का प्रधानमंत्री बनूं। मुझे देश का प्रधानमंत्री नहीं बनना है। हां, मैं ये जरूर चाहता हूं कि देश का अगला प्रधानमंत्री उत्तर प्रदेश से ही बने। अभी तक ज्यादातर तो यही होता आया है कि देश का प्रधानमंत्री यूपी से ही बना है। हम चाहते हैं कि प्रधानमंत्री चाहे कोई भी बने, लेकिन यूपी से ही बने और देश का विकास करे। मुझे तो एक बार फिर से केवल उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री ही बनना है और राज्य के विकास कार्यो को आगे बढ़ाना है।’

सीटों को लेकर जारी है बातचीत

सीटों को लेकर जारी है बातचीत

यूपी में बनने वाले महागठबंधन को लेकर अखिलेश यादव ने कहा, ‘समाजवादी पार्टी 2019 का लोकसभा चुनाव बसपा प्रमुख मायावती के साथ मिलकर लड़ेगी। सीटों के बंटवारे को लेकर दोनों दलों के बीच बातचीत चल रही है। लोकसभा चुनाव में भाजपा की हार सुनिश्चित करने के लिए और इस महागठबंधन को कायम रखने के लिए अगर समाजवादी पार्टी को 2-4 सीटों का बलिदान भी करना पड़ा तो उसके लिए हम तैयार हैं। सीटों पर फिलहाल मैं इससे ज्यादा कुछ नहीं कहूगा।’

मायावती को मिल सकती हैं 40 सीटें

मायावती को मिल सकती हैं 40 सीटें

आपको बता दें कि यूपी की गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीट पर सपा-बसपा की जोड़ी के जीत दर्ज करने के बाद दोनों के बीच गठबंधन के संकेत मिल गए थे। इसके बाद कैराना और नूरपुर में महागठबंधन के प्रत्याशी को मिली जीत के बाद अखिलेश यादव ने स्पष्ट तौर पर कह दिया था कि वो बसपा के साथ गठबंधन में कम सीटों पर भी तैयार हैं। माना जा रहा है कि महागठंबधन के तहत मायावती की बसपा को लोकसभा की 40 सीटें मिल सकती हैं। हालांकि सीटों के ऐलान को लेकर दोनों दलों की तरफ से अभी आधिकारिक तौर पर कुछ भी नहीं कहा गया है।

ये भी पढ़ें-मुस्लिम पति-हिंदू पत्नी को मिला पासपोर्ट, अफसर का तबादला



Source link