Featured Social

बीजेपी-पीडीपी के अवसरवादी गठबंधन ने जम्मू कश्मीर को आग में झोंका: राहुल गांधी | congress rahul gandhi says opportunistic BJP-PDP alliance set fire to J&K

https://hindi.oneindia.com/img/2018/06/19-1487498545-07-1399444604-rahul-gandhi5-600-1528849054.jpg


नई दिल्ली। बीजेपी ने जम्मू कश्मीर में पीडीपी के साथ मिलकर बनाई लगभग तीन साल पुरानी गठबंधन सरकार से मंगलवार को समर्थन वापस ले लिया। समर्थन वापस लेने के बाद दोनों ही पार्टियां एक दूसरे पर आरोप लगा रहीं हैं। इसी बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बीजेपी और पीडीपी पर तीखा हमला बोला है। राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि, पीडीपी और बीजेपी के अवसरवादी गठबंधन जम्मू कश्मीर को आग में झोंक दिया है। जिसमें सैंकड़ों निर्दोष लोग और बहादुर जवान मारे गए हैं।

अक्षमता, अहंकार और घृणा हमेशा विफल होती है

अक्षमता, अहंकार और घृणा हमेशा विफल होती है

मंगलवार को बीजेपी के समर्थन वापस लेने फैसले पर राहुल गांधी ने कहा कि, पीडीपी और बीजेपी के अवसरवादी गठबंधन जम्मू कश्मीर को आग में झोंका दिया है। जिसमें सैंकड़ों निर्दोष लोग और बहादुर जवान मारे गए हैं। इस गठबंधन से यूपीए सरकार की सालों की कड़ी मेहनत बेकार कर दी है। राज्य में बार-बार लग रहा राज्यपाल शासन बर्बाद कर रहा है। अक्षमता, अहंकार और घृणा हमेशा विफल होती है।

कश्मीर में 40 साल में आठवीं बार राज्यपाल शासन लागू होने जा रहा है

कश्मीर में 40 साल में आठवीं बार राज्यपाल शासन लागू होने जा रहा है

आपको बता दे कि, मंगलवार को बीजेपी महासचिव ने प्रेस कॉफ्रेंस कर पीडीपी के साथ गठबंधन तोड़ने का ऐलान कर दिया। पीडीपी – बीजेपी गठबंधन के टूटने के बाद जम्मू-कश्मीर में पिछले 40 साल में आठवीं बार राज्यपाल शासन लागू होने जा रहा है। बीजेपी ने पीडीपी पर आरोप लगाया था कि, राज्य में बढ़ते कट्टरपंथ और आतंकवाद के चलते सरकार में बने रहना मुश्किल हो गया था।

महबूबा ने बीजेपी पर लगाए गंभीर आरोप

महबूबा ने बीजेपी पर लगाए गंभीर आरोप

राज्यपाल को अपना इस्तीफा भेजने के बाद जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कहा कि भाजपा के साथ उन्होंने जम्मू कश्मीर को लोगों के मुश्किल से निकालने के लिए हाथ मिलाया था क्योंकि भाजपा बड़ी ताकत है। हमारे गठबंधन का मकसद कश्मीर में लोगों के साथ बातचीत और पाकिस्तान के साथ अच्छा रिश्ता रहे। उन्होंने कहा कि हमने धारा 370 को बचाया और सूबे के बच्चों से काफी मुकदमें भी हटवाए, ये ही हमारा एजेंडा था और हम उसमें कामयाब रहे।

ये भी पढ़ें: इस्तीफे के बाद सामने आईं महबूबा, बोलीं- हमने अपना एजेंडा पूरा किया



Source link