Featured Social

उद्धव ठाकरे ने भाजपा पर साधा निशाना- कहा- 600 जवान शहीद होने के बाद आया गठबंधन तोड़ने का ख्याल | JammuAndKashmir Uddhav Thackeray, Shiv Sena says sacrifice of around 600 soldiers to realise

https://hindi.oneindia.com/img/2018/06/u600x450-1529415735.jpg


नई दिल्लीः जम्मू-कश्मीर में भारतीय जनता पार्टी ने पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी से गठबंधन तोड़कर महबूबा मुफ्ती सरकार से समर्थन वापस ले लिया है। इसके बाद मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने इस्तीफा दे दिया। इस फैसले के बाद शिवसेना ने अपनी सहयोगी भाजपा पर निशाना साधा है। उद्धव ठाकरे ने कहा कि सरकार से समर्थन वापस लेने के लिए 3.5 साल का समय लगा। 600 से ज्यादा सैनिक शहीद हो गए, इसके बाद आपको अहसास हुआ कि आपको समर्थन वापस लेना चाहिए।”

JammuAndKashmir Uddhav Thackeray, Shiv Sena says sacrifice of around 600 soldiers to realise

भाजपा पर निशाना साधते हुए उद्धव ठाकरे ने आगे कहा कि, ‘जब आपको पता है कि सरकार कैसा काम कर रही है तो आप इतने लंबे किसी सरकार को कैसे समर्थन दे सकते हो।’

भाजपा पर निशाना साधते हुए उद्धव ठाकरे ने कहा कि कई रिपोर्ट्स में कहा गया है कि पवार जी ने विपक्ष ने जुड़ने का ऑफर दिया है। इसका मतलब ये है कि हर कोई महसूस कर रहा है कि हम कितने मजबूत हैं। लोग हमसे पूछते हैं कि हम सरकार में होने के बाद भी सरकार की आलोचना क्यों करते हैं। ये हमारी राजनीति है। ये हम तय करेंगी कि हमें क्या करना है।”

राज्यपाल को अपना इस्तीफा भेजने के बाद जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कहा कि भाजपा के साथ उन्होंने जम्मू कश्मीर को लोगों के मुश्किल से निकालने के लिए हाथ मिलाया था क्योंकि भाजपा बड़ी ताकत है। हमारे गठबंधन का मकसद कश्मीर में लोगों के साथ बातचीत और पाकिस्तान के साथ अच्छा रिश्ता रहे। उन्होंने कहा कि हमने धारा 370 को बचाया और सूबे के बच्चों से काफी मुकदमें भी हटवाए, ये ही हमारा एजेंडा था और हम उसमें कामयाब रहे।

यह भी पढ़ें- कर्नाटक: सीएम कुमारस्वामी के खिलाफ फेसबुक पोस्ट शेयर करना कांस्टेबल को पड़ा महंगा





Source link